Tuesday, April 23

राजनीति

भतीजे अक्षय यादव के खिलाफ फिरोजाबाद से चुनाव लड़ेंगे शिवपाल

भतीजे अक्षय यादव के खिलाफ फिरोजाबाद से चुनाव लड़ेंगे शिवपाल

Breaking News, उत्तर प्रदेश, बड़ी ख़बरें, राजनीति, राज्यवार खबरें
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने शनिवार को बड़ा ऐलान किया. इटावा में शिवपाल यादव ने कहा कि वह फिरोजाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे. फिलहाल, इस सीट से उनके चचेरे भाई और सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव सांसद हैं. शिवपाल के इस ऐलान के बाद सबसे बड़ा झटका सपा-बसपा गठबंधन को ही लगा है. शिवपाल के इस ऐलान के बाद रामगोपाल यादव ने अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में किसी को कहीं से भी लड़ने का अधिकार है. शिवपाल लड़े, मुझे ऐतराज नहीं है. इटावा में शिवपाल ने कहा मायावती अखिलेश की बुआ कैसे हो गई? जब मुलायम उनके भाई नहीं हुए, शिवपाल उनके भाई नहीं हुए, तो मायावती, अखिलेश की बुआ कैसे हो गई? जो भाई हुए बीजेपी के लोग उनके साथ मायावती ने कितना धोखा किया यह सभी जानते हैं. उन्होंने कहा कि 3 फरवरी को फिरोजाबाद में होनी वाली रैली के
सपा-बसपा ने किया कांग्रेस का प्लान ‘ए’ फेल, प्रियंका लेकर आईं प्लान ‘बी’

सपा-बसपा ने किया कांग्रेस का प्लान ‘ए’ फेल, प्रियंका लेकर आईं प्लान ‘बी’

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति
प्रियंका गांधी वाड्रा की राजनीति में आने की घोषणा के साथ यह बिलकुल साफ़ है कि आम चुनाव में अब कांग्रेस फ्रंटफुट पर खेलने को पूरी तरह से तैयार है. कांग्रेस इसके लिए काफी दिन से होमवर्क भी कर रही थी. अब आने वाले दिनों में एक-एक कर पार्टी अपने पत्ते खोलेगी. एक पत्ता खुल भी गया है. प्रियंका गांधी के साथ यूपी की सियासत को लेकर कांग्रेस ने जो रणनीतियां तैयार की हैं, आने वाले दिनों में इसकी वजह से विरोधियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है. दिक्कत बीजेपी को होगी और सपा बसपा का महागठबंधन भी इससे परेशान हो सकता है. कांग्रेस के रणनीतिकार यह बात जानते थे कि दिल्ली की सत्ता में वापसी के रास्ते, यूपी से ही होकर गुजरेंगे. और 2019 में नरेंद्र मोदी और बीजेपी के खिलाफ विपक्ष के सबसे बड़े नेता के तौर पर राहुल गांधी को खड़ा करने के लिए यूपी में हर हाल में पार्टी मजबूत करना जरूरी है. सूत्रों के
लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, सवर्ण जातियों को मिलेगा 10% आरक्षण

लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, सवर्ण जातियों को मिलेगा 10% आरक्षण

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति
लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सोमवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में फैसला किया गया है कि अब सवर्ण जातियों को 10 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा. ये आरक्षण आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को दिया जाएगा. बता दें कि 2018 में SC/ST एक्ट को लेकर जिस तरह मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का फैसला पलट दिया था, उससे सवर्ण खासा नाराज बताया जा रहा था. माना जा रहा है कि मंगलवार को मोदी सरकार संविधान संशोधन बिल संसद में पेश कर सकती है. बता दें कि मंगलवार को ही संसद के शीतकालीन सत्र का आखिरी दिन है. किन्हें मिलेगा लाभ? जिस व्यक्ति के पास तय सीमा से अधिक संपत्ति होगी, उसे इस संशोधन का लाभ नहीं मिल पाएगा. सूत्रों की मानें तो ये आरक्षण 8 लाख सालाना आमदनी और 5 एकड़ से कम जमीन वाले सवर्णों को मिल सकता है. इसके अलावा जिनके पास सरकारी जमीन (DDA, निगम की जमीन) पर अपना मकान होगा, उन्हें
DUSU में ABVP का डंका, 3 सीटों पर कब्जा, NSUI को सिर्फ एक सीट

DUSU में ABVP का डंका, 3 सीटों पर कब्जा, NSUI को सिर्फ एक सीट

Breaking News, दिल्ली, बड़ी ख़बरें, राजनीति, राज्यवार खबरें
दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ (DUSU) चुनावों में एक बार फिर ABVP ने जीत का परचम लहराया है. ABVP ने डूसू चुनाव में तीन पदों पर जीत दर्ज की है वहीं, NSUI को सिर्फ एक सीट पर जीत हासिल हुई है. इसके अलावा एक गठबंधन में लड़े लेफ्ट और आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई को डूसू चुनाव से खाली हाथ लौटना पड़ा है. अध्यक्ष पद पर ABVP उम्मीदवार अंकित बसोया ने जीत दर्ज की है. इसके अलावा उपाध्यक्ष और संयुक्त सचिव के पद पर भी ABVP की जीत हुई है. वहीं, NSUI के खाते में सिर्फ सचिव पद आया है. डूसू उपाध्यक्ष पद पर ABVP से शक्ति सिंह, सचिव पद पर NSUI से आकाश चौधरी और संयुक्त सचिव पद पर ABVP की ज्योति चौधरी ने जीत दर्ज की है. इससे कुछ घंटे पहले 'ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी' होने पर मतगणना रुक गई थी और संगठनों ने हंगामा किया था. ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी के बाद, कांग्रेस से जुड़े संगठन एनएसयूआई ने नये सिरे से चुनाव करान
डीएमके के सुप्रीमो करुणानिधि अब इस दुनिया में नहीं रहे

डीएमके के सुप्रीमो करुणानिधि अब इस दुनिया में नहीं रहे

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति
दक्षिण की राजनीति के मुख्य स्तंभ और तमिलनाडु के 5 बार मुख्यमंत्री रहे एम करुणानिधि का निधन हो गया है. लंबी बीमारी के बाद उन्होंने मंगलवार शाम 6:10 बजे अंतिम सांस ली. 94 वर्षीय द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) के सुप्रीमो करुणानिधि को पिछले महीने ब्लड प्रेशर का स्तर गिरने के कारण भर्ती कराया गया था. पहले उनका इलाज घर पर ही चल रहा था, लेकिन बाद में तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया. तब कावेरी अस्पताल की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया था कि बढ़ती उम्र के कारण ही करुणानिधि की तबीयत बिगड़ी है. उन्हें बार-बार बुखार आ रहा है। कावेरी अस्पताल की ओर से 6:40 बजे जारी किए गए प्रेस रिलीज के अनुसार, करुणानिधि ने 6:10 बजे अंतिम सांस ली। पिछले महीने हुए थे अस्पताल में भर्ती इससे पहले उन्हें 18 जुलाई को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन बाद में
नितिन गडकरी की दो टूक- जब नौकरियां ही नहीं, तो आरक्षण का क्या फायदा

नितिन गडकरी की दो टूक- जब नौकरियां ही नहीं, तो आरक्षण का क्या फायदा

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति
मराठा आंदोलन की आंच में पहले से ही झुलस रहे महाराष्ट्र में मोदी सरकार के मंत्री नितिन गडकरी के एक बयान ने आग में घी का काम किया है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि आरक्षण रोजगार की गारंटी नहीं है क्योंकि नौकरियां कम हो रही हैं. महाराष्ट्र के औरंगाबाद में नितिन गडकरी से जब आरक्षण के लिए मराठों के वर्तमान आंदोलन व अन्य समुदायों द्वारा इस तरह की मांग से जुड़े सवाल पूछे गए तो उन्होंने जवाब दिया कि यदि आरक्षण दे दिया जाता है तो भी फायदा नहीं है, क्योंकि नौकरियां नहीं हैं. बैंक में आईटी के कारण नौकरियां कम हुई हैं. सरकारी भर्ती रुकी हुई हैं. नौकरियां कहां हैं? नितिन गडकरी ने आर्थिक आधार पर आरक्षण की तरफ इशारा करते हुए कहा कि एक ‘सोच’ है जो चाहती है कि नीति निर्माता हर समुदाय के गरीबों पर विचार करें. उन्होंने कहा कि एक सोच कहती है कि गरीब गरीब होता है, उसकी कोई जाति, पंथ या भाषा नही
NRC पर सियासी महाभारत, ममता बोलीं- बंगाली लोगों को भगा रही है BJP सरकार

NRC पर सियासी महाभारत, ममता बोलीं- बंगाली लोगों को भगा रही है BJP सरकार

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति
असम में रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) का दूसरा और आखिरी ड्राफ्ट के आते ही सियासत तेज हो गई है. टीएमसी सांसद ने लोकसभा में जहां इस मुद्दे पर सदन स्थगन प्रस्ताव दिया है. वहीं ममता ने बीजेपी पर बंगालियों को भगा रही है। असम में रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) का दूसरा और आखिरी ड्राफ्ट पेश कर दिया गया है. इसके तहत 2 करोड़ 89 लाख 83 हजार 677 लोगों को वैध नागरिक मान लिया गया है. इस तरह से करीब 40 लाख लोग अवैध पाए गए हैं. ड्राफ्ट के आते ही सियासत तेज हो गई है. टीएमसी ने जहां असम में NRC ड्राफ्ट के मुद्दे पर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया. वहीं टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि NRC के नाम पर बंगाली लोगों को टारगेट किया जा रहा है। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने असम एनआरसी पर कहा कि कई लोगों के पास आधार कार्ड और पासपोर्ट होने के बावजूद उनका नाम ड्रा
संघ-भाजपा बैठक में प्रस्ताव- खत्म हो 377, निजता पर हमला गलत

संघ-भाजपा बैठक में प्रस्ताव- खत्म हो 377, निजता पर हमला गलत

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति
दो दिन के इस शिविर में संघ के सह-सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल और भाजपा के महासचिव राम माधव मौजूद थे. शिविर में कश्मीर में शांति, आंतरिक सुरक्षा जैसे विषयों पर भी चर्चा की गई। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से वैचारिक रूप से प्रभावित नई पीढ़ी के लोगों का मानना है कि धारा 377 जैसे कानून को खत्म करना चाहिए. इसमें संबंधों का निषेध अवयस्कों और अन्य जीवों तक सीमित किया जाना चाहिए. संघ से ही परोक्ष रूप से जुड़े संगठन, इंडिया फाउंडेशन ने शनिवार को हिमाचल प्रदेश के कसौली में दो दिन के युवा विचार शिविर का आयोजन किया था. इस शिविर में आरएसएस और भाजपा के कई बड़े नेताओं ने भी हिस्सा लिया। युवाओं के इस कार्यक्रम में कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के विषयों पर चर्चा हुई. उन्हीं में से एक था धारा 377 पर चर्चा. इस चर्चा में शिविर में आए युवाओं ने काफी प्रगतिशील ढंग से 377 पर अपने विचार रखे और कहा कि धारा 377
अमित शाह का दावा- वसुंधरा राजे फिर बनेंगी राजस्थान की मुख्यमंत्री

अमित शाह का दावा- वसुंधरा राजे फिर बनेंगी राजस्थान की मुख्यमंत्री

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति, राजस्थान, राज्यवार खबरें
भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को राजस्थान के दौरे पर थे. जहां उन्होंने राज्य में नेतृत्व को लेकर चल रही आशंकाओं को दूर कर दिया. शाह ने साफ कर दिया कि राजस्थान में आने वाला विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में लड़ा जाएगा और प्रचंड बहुमत के साथ वह एक बार फिर मुख्यमंत्री बनेंगी. अमित शाह ने कहा कि राजस्थान के साथ-साथ छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में पार्टी एक बार फिर सरकार बनाएगी और 2019 में नरेंद्र मोदी ही देश के प्रधानमंत्री बनेंगे। शनिवार को जयपुर में अमित शाह ने प्रदेश कार्यसमितिकी दो दिवसीय बैठक के समापन सत्र को संबोधित किया. जहां उन्होंने कहा कि इस बार राजस्थान में एक बार भाजपा और एक बार कांग्रेस की परम्परा टूटने जा रही है. उन्होंने कहा कि वसुन्धरा राजे की सरकार ने राजस्थान में बहुत काम किया है. भामाशाह योजना, मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अ
बिहार में सीटों के बंटवारे के लिए ‘डिनर डिप्लोमेसी’, नीतीश के घर पहुंचे शाह

बिहार में सीटों के बंटवारे के लिए ‘डिनर डिप्लोमेसी’, नीतीश के घर पहुंचे शाह

Breaking News, बड़ी ख़बरें, राजनीति
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह डिनर डिप्लोमेसी के जरिए सीटों के बंटवारे के मसले को सुलझाने में जुट हुए हैं. शाह ने नीतीश कुमार के घर डिनर में शामिल होने के लिए पहुंच चुके हैं. दोनों नेताओं की इस डिनर डिप्लोमेसी पर सबकी निगाह लगी हुई है. नीतीश कुमार के डिनर पार्टी में 20 वीवीआईपी के लिए अलग से इंतजाम किए गए हैं. इन वीवीआईपी में दोनों दलों के दिग्गज नेता शामिल हैं. जेडीयू की तरफ से मुख्यमंत्री के अलावा उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों में ललन सिंह, बिजेंद्र यादव, जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह और राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह के अलावा कुछ अन्य नेता शामिल हैं. वहीं, बीजेपी की तरफ से अमित शाह, भूपेन्द्र यादव, सौदान सिंह, सुशील मोदी, नंदकिशोर यादव, मंगल पांडे, प्रेम कुमार और संगठन मंत्री नागेंद्र शामिल हैं. डिनर एक अणे मार्ग मुख्यमंत्री आवास के