Monday, February 18

बुराड़ी कांडः यहां से खरीदे थे मौत के फंदे, सीसीटीवी से खुलासा

दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत के मामले में एक अहम खुलासा हुआ है. ‘आज तक’ की टीम उस दुकान तक जा पहुंची, जहां से इस परिवार ने अपने लिए मौत का सामान खरीदा था. यानी फांसी लगाने के लिए दुपट्टे और चुन्नी खरीदी थी.

इन्हीं में से एक दुपट्टा जो भुवनेश के गले मे था, वो बुराड़ी इलाके की ही एक दुकान से खरीदा गया था. भुवनेश के गले मे पड़े महरून रंग के दुप्पटे की पहचाना करने वाली महिला ने बताया कि घटना से तकरीबन हफ्ते 10 दिन पहले भाटिया परिवार की चश्मे वाली लड़की (नीतू) उनकी दुकान पर आई थी और 1 या 2 दुपट्टे खरीदकर गई थी.

क्राइम ब्रांच की टीम ने जब इस महिला को लाशों के गले मे पड़े दुपट्टों की पहचान करवाई तो उन्होंने भुवनेश की लाश के गले में पड़े महरून रंग के दुपट्टे की पहचान कर ली.

बुराड़ी में ही बीके शूज़ नाम से जूतों की दुकान चलाने वाले महेंद्र पाल की दुकान पर क्राइम ब्रांच की टीम पहुची थी. महेंद्र पाल का कहना है कि 30 जून यानी शनिवार को घर की बेटी जो चश्मा लगाती थी (नीतू) और दोनों बच्चे (शिवम और ध्रुव) शाम साढ़े 7 और 8 बजे के बीच दुकान पर आए थे.

उन्होंने 2 जोड़ी स्कूल शूज खरीदे. 800 रूपए का बिल था लड़कीं ने 500 रुपये दिए और कहा कि बाकी 300 रुपये कल दे जाएगी. लेकिन उसी रात पूरे परिवार की मौत हो गई. CCTV में भी घर के तीन लोग साफ दिखाई दे रहे हैं. पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है. CCTV फुटेज पुलिस के लिए काफी अहम सबूत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *